Sunday, February 9, 2020

1000 तक के पहाड़े: एक मूर्खतापूर्ण विचार



आप की ये बात हजम नहीं हुई
4 साल से 1000 के पहाड़े और 1 लाख बच्चे सुन रहा हु।

मैथ में 5 क्षेत्र हैं।
संख्याज्ञान
गणित की 4 प्रक्रिया
गूंजाश
अपूर्णाक
भूमिति

पहाड़े अगर देखा जाय तो 100 में से 0.01 % हिस्सा हैं।

अक्षय खत्री जी को अभिनन्दन।रमेश तन्ना जी ने अच्छा लिखा हैं।
आप ने रमेश तन्ना जी से लिखवाया है कि आप प्रकाश जावड़ेकर जी को प्रभावित कर पाए। गुजरात के CM सर से भी आप ने ये काम बताया हैं। 4 साल से 1 लाख बच्चे कहते हो। 1 लाख बच्चे है तो1000 स्कुल मानते हैं। गुजरात में 36578 Govt स्कुल हैं। 14 हजार से अधिक प्राइवेट स्कूल हैं। क्या आप ने जहाँ काम किए ऐसी100 स्कुल के नाम भी दे पाओगे?

रिकॉर्ड किसी का और आप की आदत से मजबूर किसी की सिद्धि को अपने नाम करना। जैसे जहांगीर को ही देखलो।

अमदावाद आप ने आप की कंपनी लॉन्च करी तब से में 1 लाख और पहाड़े सुन रहा हु। आप की डीसा वाली स्कुल में std:6 के बच्चे 7 का पहाड़ा नहीं बोल पा रहे हैं।

एक बार आप ने मुझे कुछ फोन पे बताया था। मेने आप के दर्शन पाने के लिए 2 बार श्री Rajendra D Joshi सर को बिनती कर चूका हूँ। शायद उनकी व्यस्तता के कारण ये संभव नहीं हो पाया। आप  डीसा और पालनपुर आते जाते रहते हो।
कभी न कभी हम आमने सामने होंगे।
गणित के बारे में आप के रेकॉर्ड होल्डर या किसीभी व्यक्ति से चर्चा,संवाद या प्रक्रिया के बारे में बात करने का चेलेंज करता हु । सिर्फ आप हां बोलो...

आप 1000 के पहाड़े के नाम से मुर्ख बनाने निकले हो। आज फिर कहुगा.... आप मुर्ख बना सकते है,जीनियस नहीं।

आप बाते करते है इंटरनॅशनल की और आयोजन होता है कॉर्पोरेशन लेवल का। इस बात को मैने महसूस किया हैं। जहाँ तक रेकॉर्ड की बात हैं उन को सलाम मगर तेजस शाह आप की आदत है कि किसी की सिद्धि को अपने नाम करना। कीजिए...आप व्यवसायी हैं। और मुर्ख बनाने में आप माहिर हो। कोई एक व्यक्ति 1000 तक पहाड़े रट्टे मारके याद करलेता है। रेकोर्ड भी होता हैं। मगर आप का 1 लाख बच्चो का दावा में तो नहीं मान सकता।
मुझे था कि जोशी सर मुझसे आप को मिलवाएंगे मगर वो शायद व्यस्तता के कारण नहीं कर पाए होंगे। आप जोशी सर के पैसो से बिल्डिंग बना सकते हो,विद्याधाम नहीं।
 12 जुलाई
15 जुलाई
19 जुलाई
20 जुलाई
16 अगस्त तक मेने मेसेज से,कोल से और तो और  दो बार जोशी सर को  मिलकर तेजस शाह को मिलने के लिए विनती की, मगर कुछ नहीं हुआ।आज 7 माह हुए हैं।

आप लंबे समय तक सभी को मुर्ख नहीं बना सकते। में चाहूंगा कि  तेजस जी में आप के इस गुब्बारे को फोड़ के दिखाऊ। मेरी तैयारी है। आप के 1000 तक पहाड़े के लिए और आप के जुठ को साबित करने को में चर्चा करने को तैयार हूँ। आप जब चाहे, जहा चाहे ओपन चर्चा करते है और वीडियो रेकॉर्डिंग भी करेंगे। खर्च में उठाऊंगा।

HRD मिनिस्टर और गुजरात के CM को 1000 के पहाड़े के लिए आप प्रेजेन्टेशन अच्छा कर पाए होंगे। मगर आप को आज तक गुजरात में सरकारी स्कूल में इसे फैलाने की परमिशन क्यों नहीं मिली?

मुझे 15 तक पहाड़े आते हैं। std: 1 से 10 किसी भी क्लास का गणित में गिन सकता हूँ। मुझे 16 के पहाड़े की आवश्यकता नहीं हैं।आप को मालूम नहीं होगा मगर  पहाड़े 1. 1. 1 से 1. 10. 10 नहीं होते। 1.11.11 या 9.11.99 भी पहाडे का हिस्सा हैं।

आप या आप की कंपनी का कोई भी बन्दा (रेकॉर्ड होल्डर सहित) पहाडे और पहाड़े शिखाने का सही तरीका बताए,मेरी चेलेंज है कि आप या आप का कोई व्यक्ति भी नहीं बता पायेगा। सिर्फ बाते करने से नही चलता। विश्वके गणित शात्री माने जाने वाले  श्री अरुण वैध सर अमदावाद से थे।वो मैथ ओलम्पियाड के आयोजक रहे हैं। विश्वके 164 देशों के लिए आयोजित मैथ ओलम्पियाड में  3 बार  चेरमेंन रह चुके हैं। उन की एक किताब में इस के बारे में लिखा हैं । पहाड़े कैसे सिखाए। सुरसिंह जी(राजकोट) को पूछो जिन्होंने पहाड़े शिखाने पर  PHD किया हैं।
फिरसे कहूंगा

आप मुर्ख बना सकते है, जीनियस नहीं।


भावेश पंड्या
09925044838
7स्किल फाउंडेशन,गुजरात

(तेजस जी मेने जो लिखा हैं, नशा करके नहीं लिखा हैं)

No comments: