Tuesday, January 15, 2019

बच्चो में आंखों का कैंसर...


अमेरिका में एक मां ने नया मोबाइल खरीदा जिससे उसने अपने बच्चे की फोटो खींची तो उसके सामने एेसा भयानक सच सामने आया कि वो हैरान रह गई । मामला टेक्सास का है जहां रहने वाली टीना ट्रेडवेल ने ...

न्यूयार्कः अमेरिका में एक मां ने नया मोबाइल खरीदा जिससे उसने अपने बच्चे की फोटो खींची तो उसके सामने एेसा भयानक सच सामने आया कि वो हैरान रह गई । मामला टेक्सास का है जहां रहने वाली टीना ट्रेडवेल ने एक नया मोबाइल खरीदा था जिससे वो अपने बेटे की फोटो खींच रही थी। टीना ने कई फोटो अपनी बहन को दिखाए, जिसमें उसकी दाहिनी आंख जानवरों की तरह चमक रही थी।
टीना को लगा कि ये मोबाइल के फ्लैश की वजह से हो रहा है, लेकिन उसे अनजाना डर सता रहा था। इसके बाद उसने एक डॉक्टर से इस बारे में बात की। जल्द ही उसकी आंख चमकने का खौफनाक कारण सामने आ गया। टीना जब बच्चे को डॉक्टर के पास ले गई तो उसका शक सही निकला। बच्चे की आंख फ्लैश की वजह से नहीं चमक रही थी, बल्कि उसे कैंसर था। डॉक्टर ने बताया कि उसे आंख का कैंसर है, जो छोटे बच्चों को होता है और बेहद रेयर होता है।
डॉक्टर्स ने कहा कि अच्छा हुआ कि बच्चे की मां ने फोटो के जरिए इस चीज की पहचान कर ली। कैंसर शुरुआती स्टेज में था और इसे रोका जा सकता था। हालांकि, डॉक्टर्स ने बताया कि ट्रीटमेंट में बच्चे की एक आंख खराब भी हो सकती है। इसके बाद बच्चे का ट्रीटमेंट शुरु कर दिया गया। - अमेरिकन कैंसर सोसायटी की रिपोर्ट के मुताबिक रेटीनोब्लास्टोमा नाम का ये कैंसर आसानी से डिटेक्ट किया जा सकता है। डॉक्टर्स ने कहा कि फ्लैश वाले मोबाइल कैमरे या फ्लैश लाइट से इसे देखा जा सकता है। ऐसे में अगर कैमरे में किसी बच्ची की आंख अजीब तरह से चमके, तो उसे नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए।

सरकुम:

आप एक ओर से देखते हैं।
हमने क्या खोया हमने बताया नहीं। आप खोने से पहले कोर्डन करना चाहती हैं। सवाल मेरे ओर आप के समान हैं, शायद आप को अभी जरूरत नहीं लगती की हमे जानकारी प्राप्त हो।

आप को जल्दी नहीं, मुजे भी देर नहीं हो रही हैं। सवाल ये हैं कि दोनों को जरूरत हैं या कोई एक आगे का सोचता हैं।

सोचिए...

आप की सोच सही हैं।
क्या लोग पागल होने का अभिनय कर सकते हैं?!

No comments: