Friday, December 21, 2018

सुंदरता या...



नमस्कार दोस्तों आप सभी का एक बार फिर से मेरे लेख में स्वागत है, तो दोस्तों जैसे की आप सभी तो जानते ही है की इस दुनिया में कितने प्रकार के लोग रहते है और हर एक प्रकार के लोग जो है उनका रहन सेहन और सभी कुछ अलग अलग होता है. तो आज जो तस्वीरें में आप सभी के सामने ले कर आया हुं उन्हें देखकर आप सभी की समझ में भी आ जायेगा की जैसे आज के जमाने में महिलाये मेकअप करती है और अपने आप को सुंदर सोचती है तो वैसे ही दुनिया में कई ऐसी प्रथाएं है जिन्हें अगर कोई देख ले तो हैरान ही रह जाए ये देखकर की महिलाओ को सुंदर दिखने के लिए क्या क्या करना पड़ता है. चलिए दोस्तों तो शुरू करते है और दिखाते है आपको कुछ ऐसी ही तस्वीरें.


दोस्तों अापने लोगों को देखा होगा जो की ऐसी लड़की ढूंढते है जो की सुंदर हो और सुंदर से उनका अभीपराये होता है की गोरी हो और सुंदर हो देखने में. पर हर जगह ऐसा नहीं होता है, इंडोनेशिया में एक ऐसी जगह है जहाँ पर आज भी महिलाओ की सुंदरता को उनके दाँतो के हिसाब से आँका जाता है. जिस महिला के दाँत जितना नोकीले होंगे वो महिला उतनी ही सुंदर. और अपने दाँतो को ऐसे करवाने के लिए महिलाओ को गांव में ही किसी ऐसे आदमी के पास जाना पड़ता है जो की ये काम करता हो. और इस काम को किसी डॉक्टर द्वारा ढंग से नहीं बल्कि एक तेज़ धार हथियार और हथोड़े से किया जाता है. अभी आप खुद ही अंदाजा लगा लो की इसमें कितनी ज्यादा तकलीफ़ होती होगी.

आज भी पतली कमर की औरतों को ज्यादा सुंदर माना जाता है मतलब की औरत की सुंदरता का आकलन जिस आधार पर किया जाता है ये उसका एक हम हिसा माना जाता है. पर क्या आप में से कोई ये जानता है की पहले के समय में औरतों को पतली कमर पाने के लिए क्या क्या करना पड़ता था. कुछ महिलाये तो ऐसी थी जिन्होंने एक ऐसे कपड़े को हमेशा पहन कर रखा होता था जिससे की उनकी कमर उस जैसी हो जाए और जैसी शेप वो अपनी कमर को देना चाहती है वैसी हो जाए. में तो ये सोच भी नहीं सकता हुं की महिला को अपना जीवन जीने में ऐसे में कितनी ज्यादा दिक्कत आती होगी. सास भी लेना मुश्किल हो जाता होगा ऐसे में महिला का.

दोस्तों सबसे ज्यादा दर्दनाक जो है वो यही है, चीन में एक ऐसा समय था जब ऐसी महिलाओ को सुंदर का दर्जा दिया जाता था जिनके पैर छोटे हो और ऐसे आगे से बिलकुल ही पतले. और इसे चायनीज़ फुट बाइंडिंग कहाँ जाता था. और आप कभी अंदाज़ा भी नहीं लगा सकते हो की ऐसे जूते पहन पहन कर महिलाओ के पैरो का हाल क्या हो जाता था. अगर आप इंटरनेट के ऊपर सर्च करोगे और देखोगे, तो आपको समझ आएगा की ऐसे जूते पहनने के चक्कर में महिलाओ के पैर ऐसे हो जाते थे जिसका कोई हिसाब ही नहीं है. मुझे तो देखकर ही डर लग गया है था जब मैंने इनके पैर देखे थे. में तो ये सोच रहा था की जिस महिला के साथ ऐसा हुंआ होगा उसका हाल क्या हुंआ होगा.


हर लड़की का एक सपना होता है की उसका राजकुमार आएगा और उसे ब्याह कर अपने घर ले जायेगा. पर अगर लड़की सुंदर ना हुयी तो फिर उसे अच्छा लड़का कभी भी नहीं मिलता है. तो ऐसे में जो होता है वो तो आप सभी के सामने ही है, म्यांमार में एक ऐसा स्थान है जहाँ पर लड़कियों की सुंदरता का आकलन उनकी गर्दन की लम्बाई देखकर लगाया जाता है. जितनी लम्बी गर्दन होगी उतनी ही लड़की सुंदर होगी. और अपनी गर्दन को लम्बी करने के लिए यहाँ पर महिलाये हर समय अपनी गर्दन में ऐसे स्प्रिंग डाल कर रखती है ताकि उनकी गर्दन लम्बी हो जाए. और मर्दों की इस इच्छा को पूरी करने के लिए ये महिलाये अपने आप को हर दिन इतना कष्ट में रखती है. मुझे तो देखकर ही बुरा लग रहा है तो जिसके साथ होता होगा ऐसा उसका हाल क्या होता होगा.

दोस्तों दुनिया में भी कैसे कैसे लोग रहते है ये तो सोचने की बात है, पर कुछ लोग तो ऐसे है जिनकी ये प्रथाएं तो बिलकुल ही अलग है. जैसे की अफ्रीका में एक ऐसी जगह है जहाँ पर ऐसे लोग रहते है जो की अपने होठ के आकार से आकलन करते है की वो कितने सुंदर है. जैसे की आप देख रहे है इस महिला को, इस महिला की शादी जब होगी तो इसके होंठ के बीच में ये जो बड़ा सा गोला लटका रखा है इसी के आधार पर होगी की उसके होंठ में कितना बड़ा गेप है. अभी आप बताओ दोस्तों की आपके साथ ऐसा हो तो आपको कैसा फील होगा. ये तो अच्छा है हम भारत में पैदा हुंए हुंए है नहीं तो ऐसी चीज़े तो हम लोग झेल ही नहीं सकते है.

सरकुम:

प्यार विचारो से ओर उद्देश्य के साथ हो तो प्यार हैं।अगर शारीरिक सुंदरता का मोह हैं तो कभी आप विश्वास को नहीं जीत सकते।

No comments:

सनथ