Saturday, October 20, 2018

मेरा प्यार गणेशा...

मेरे पास प्यार हैं।
मेरे पास गणेश जी हैं।
मेरे पास गणेश जी का प्यार हैं। डीसा में एक गणेश मंदिर हैं। में कई सालों से में दर्शन करने जा रहा हूँ। आज भी गया।आज कुछ बिचार से गणेश जी के मंदिर में स्थित मूर्ति देख रहा था। आज बहोत देर तक देखने के बाद मुजे मालूम हुआ की, इसी मंदिर में गणेश जी के साथ रिद्धि ओर सिद्धि को भी स्थापित किया गया हैं।

2001 से गणेश जी ने मुजे आशीर्वाद दिए हैं। जहाँ भी रुका हूं, जहा भी टूटा हु बस, गणेश जी ने मुजे रास्ता दिखाया हैं। आज एक ऐसा काम लेके निकला हु, पहले कुछ लोग जुड़े थे। इन्हों ने मेरे पीछे कुछ ऐसा किया उन्हें छोड़ना पड़ा। आज भी अब वो मेरे साथ नहीं हैं कुछ लोग मानने को तैयार नहीं हैं। मगर गणेश जी केलिए मेने डीसा से एथॉर चलकर गया था। तब मुजे शांति मिली थी। जब में बेचेंन होता हूं गणेश जी पे छोड़ता हु। वो जो हुकुम करते हैं,वैसे आगे बढ़ता हु।

सरकुम:

जय गणेश

Post a Comment