Saturday, September 29, 2018

समस्या और समाधान


एक बहुत ज्यादा जटिल समस्या आपको बहुत ज्यादा परेशान कर सकती है और इसे हल करना आपके लिए काफी कठिन भी हो सकता है। अगर आपके सामने एक-से ज्यादा समस्याएँ हैं, तो उन्हें छोटे-छोटे भागों में बाँट लें और फिर एक-एक कर के उनका सामना करें। अगर आप अपनी समस्या को छोटे-छोटे भागों में बाँट लेंगे, तो इससे आपको इनके हल की तलाश करने में आसानी होगी। भले पूरी समस्या हल न हो, उस के बारेंमे जानकर भी कुछ अच्छा कर सकते हैं। 

जैसे कि, अगर आपको किसी क्लास को पास करने के लिए बहुत सारे असाइनमेंट्स पूरे करने हैं, तो पहले इस बात पर ध्यान लगाएँ, कि आपको कितने असाइनमेंट पूरे करने हैं, फिर उन्हें एक-एक कर के पूरा करने की कोशिश करें। सिर्फ खुशिया बाटने से बढ़ती हैं वो आपनके सुना होगा। बस, वैसे ही दर्द और काम के बारे में अपनों को बताना जरूरी हैं। कुछ बाते ऐसी होती हैं जिस में दरार पड़ने से मजबूती ओर बढ़ती हैं। देखिए ओर याद कीजिए। मीठे जगड़े के बाद जब पति पत्नी साथ बैठते हैं तो प्यार बढ़ता हैं। महसूस होता हैं।

जब कभी भी आप से हो सके, तो किसी भी समस्या को एक करके और फिर हल करने की कोशिश करें। जैसे कि, अगर आपके पास में पढ़ाई करने के लिए वक़्त नहीं बचा है, तो फिर क्लास की तरफ जाते वक़्त रिकॉर्ड हुए लेक्चर को सुनें या फिर डिनर का इंतज़ार करते हुए आपके नोट्स ही पढ़ लें। बस,छोटी छोटी बुराइयों को छोड़कर जो अच्छा है उस पर ध्यान केंद्रित करें।

सरकुम:
जो है सो हैं,
न कुछ बदलेगा,
न कुछ बिगडेगा।
बस, सोच को मजबूत करो।
बस, सोच कर ही कदम भरो।
Post a Comment