Monday, July 17, 2017

Only one & 1

मेरे दोस्त!
मेरे साथी हैं!
हम साथमे काम करते थे!
हम साथमें काम करते हैं!
ओर,हम साथमें काम करेंगे!
आपको होगा कि वन ऐंड 1 में ये काम वाली बात कैसे आई!देखिये आज के दिन अगर देखे तो आपको ये महसूस होगा कि 'साले...जो पढाई करनेमे टाइम दिया!वो पढ़ाई कुछ काम नहीं आती!'अगर मार्क्स के मिलने से तपस्वियों के मार्क्स अच्छे आएंगे!वो समजे है इसकी कोई गेरंटी नहीं हैं!
हम आज बात ये नहीं करते हैं कि अव्वल आना एक बात हैं!अभिनव होना दूसरी बात हैं!आप मार्क्स के रूपमें स्थान प्राप्त कर सकते हो!आपको यूनिक सोचना हैं!यूनिक बनना हैं!आपकी सोच आपको अव्वल नहीं !प्रथम या एक नंबर के बजाय 'एक मात्र' की पहचान देगी!
अलग सोचनेका अर्थ ये नहीं है कि...सवाल पैदा करे!इसका मतलब हैं कि नया नहीं सोचना तो ठीक,गलत तो नहीं सोचना हैं!कई बातें ऐसी होती हैं जिसको आप कभी नही समज पाओगे!बहोत सारी चीजे ऐसी हैं जिसको हम नहीं समजे हैं!हम ये समझना जरूरी हैं कि हम क्या समजेंगे!इस चित्रको देखे तो कोई कहेगा एक छाता अलग हैं!कई जवाब हो सकते हैं!हा, एक बात है।जितने जवाब होंगे इसमें एक के9मन होगा कि एक अलग हैं!अगर देखा जाए तो छाता हैं!कलर या दिखावेपनबपे देखा जाय तो अलग हैं!
हम भी दिखते हैं,दुखाते हैं!
क्या हम यूनिक हैं या किसी क्रम पे अटके हैं!मीरा सीधा मतलब हैं कभी क्रम को तबज्जो न दे!आज में पहला हुन,कल मेरा दूसरा नंबर होगा!एमजीआर में जो हु,जहाँ हुन में सिर्फ में रहूंगा!में में हीं हु या किसी नंबर पे अटका हुन वो मुझे ही तय करना हैं!मुझे पदण्ड हैं कि जो कुछ हैं,यूनिक हैं!नंबर को छोड़ो,यहां अपने तरीकेसे ही देखना हैं!इस लिए हमारी यूनिक परिस्थिति को नंबर से नहीं अपने भाव से देखे!
एक छाता पीला हैं,मगर बहुमत कालो के पास हैं!एक तरीके से काले छाते विजयी हैं!मगर एक अकेला न हारने वाला पिला छाता भी अपनी जगह अलग दिखता हैं!जो आज दिखेगा,दिखेगा उसे स्वीकृति मिलेगी!हम सिर्फ परस्पर को स्वीकार करें और स्वीकृति दे!बाकी काले छातो की कमी नहीं हैं!हम खुश हैं कि मेरी पीली छतरी में कोई वहाली भी आ जाय।यूनिक हैं वैश्विक हैं!

Post a Comment