Tuesday, July 11, 2017

हेरिटेज सिटी अमदावाद





अहमदाबाद की बात हैं!
कर्णावती नगर की बात हैं!
बादशाह अहमद शाह से जुडी एक बात हैं!
कहते हैं!एक बार बादशाह शिकार के लिए गए थे!उस समय एक कुत्ते पे सस्सा धाया,बादशाह ने शहर बसाया! उस वख्त ऐ देखकर अहमदशाह को हुआ की ऐ धरती में ऐसा कुछ हैं की एक सस्सा कुत्ते पे धाक जमाता हैं!ऐसी एक दन्तकथा जेसी बात हैं! हा,अहमदशाह ने इसे बसाया!विश्व के इतिहास में किसीभी समय,किसीभी वख्त,किसीभी नाम से आज का अहमदाबाद जुड़ा हैं!कुछ दिन पहेले यूनेस्को ने हमारे देश को,गुजरात को नइ पहेचान दी!आज अहमदाबाद के लोगो के लिए एक अच्छी खबर हैं!यूनेस्को ने वर्ल्ड हेरिटेज सीटी में अहमदाबाद को गोषित किया गया है!कर्णावती या अहमदाबाद!मुझे कोई लेनादेना नहीं हैं!में किसीभी नाम से इसे प्यार करता हूँ!सन्मानित करता हूँ!
हा,अब क्या होगा! देखने के लिए हम बेठे हैं!आप और में इस ऐतिहासिक पल या शहर से जुड़े हैं!आह अमदावाद...वाह...अमदावाद...मगर पिछले कई सालो से सरकार में भाजप हैं!अब तो तिन साल से केन्द्रमें भाजपा की सरकार हैं!फिरभी नाम क्यों नहीं बदला!अब तो वर्ल्ड हेरिटेज सिटी होने के बाद तो नाम नहीं बदला जायेगा!
एक बात तय हैं! अहमदाबाद उसके नाम से नहीं!अपने स्थान से महँ हैं!अब विश्व में हमारी पहेचान बढ़ी हैं!अब हमसे अपेक्षा भी बढेगी!

sms:अहमदाबाद के रिक्शा ड्रायवर अब पैर के बदले सेड लाईट ते सिग्नल बताएँगे!

Post a Comment