Sunday, April 23, 2017

आप और क्या क्या रखोगे...

एक प्राइवेट स्कुल के संचालक बेठे हैं!उनके सामने एक छोटा बच्चा और उसके पिता जी खड़े हैं!स्कुल बुक्स,किताबें,पेन,पेन्सिल और ड्रेस भी रखती हैं!कई स्कुल में तो हर दिन ड्रेस बदलता हैं!

ऐसा करने से शिक्षा में क्या सुधर होगा वो मालुम नहीं हैं!हां,संचालक को फायदा जरूर होगा!ऐसी सोच और समज को एक छोटे से चित्र के माद्यम से उसने अच्छी तरह पेश किया हैं!इंडियन न्यूज़ मेगेजिनके कार्टोनिस्ट समीर का ये कार्टून पेरेंट्स के साथ प्राइवेट स्कुल के संचालको के साथ भी टेडी मात मगर प्यार से कहते हैं!  
आज के समय में ऐसे चित्रकार अपनी अलग बातें लेके आते हैं और अपनी पहचान बनाते हैं!समीर भिन्न भिन्न विषय के उपर कार्टून बनाके समग्र भारत और विदेशोमें भी अपने कार्टून का मंचन कर चुके हैं!