Friday, April 21, 2017

हमने किया...

मेरे कई दोस्त हैं! कोई काम के कारण जुडा हैं!कोई सिर्फ प्यार से जुड़ा हैं और काम करतें हैं!कई पारिवारिक सदस्य हैं!

कुछ एइसे हैं जो परिवार से अधिक हैं!कुछ साथी जो सिर्फ शिक्षा के काम के लिए मुझसे जुड़े हैं! कुछ सिखाने को और सिखाने को जुड़े हैं!
ऐसे साथियों के साथ,कुछ नया करने के बारेंमें सोच रहे थे!हमने सोचा क्यों न एक blog बनाए और इसे सामूहिक तोर पे चलाए!

बीएस सोचा और इसका अमल किया!आज हम इतनी स्फ्रूर्ति से तो नहीं मगर एक अच्छा blog चला रहे हैं! आप भी आपकी बात उसमे रख सकते हैं!सबसे पहले तो मेरा आपसे अनुरोध हैं की आप हमारे blog को एक बार देखें और उसको चलाने के तरीके और एनी जानकारी के लिए हमें मार्गदर्शन दें!आशा रखते हैं!आपको हमारा ऐ छोटासा काम पसंद आया होगा!

वेसेतो हम चाहे वो सब कुछ कर सकते हैं! मगर हम चाहते नहीं हैं!ऐसा क्या हो गया की हमारी कोई ऐसी इच्छा ही नहीं होती की हम क्या करते हैं!या नया क्यों नहीं करते हैं! जेसे जेसे हम साथियो की इस काम के प्रति समाज बढाती हैं!आप मानो हमारा काम सरल हो गया हैं!हमारी जानकारी और उसे सब के साथ शेर करने की जो प्रक्रिया हैं!हम उसे किसी नए तरीके से देखते हैं! आपसे आशा रखते हैं की आप कोई भी जानकारी हो तो कृपया हमे भेजें!
उस जानकारी का हम जहा इस्तमाल करेंगे वहां आप को सन्मान दिया जायेगा!हम नेता नहीं हैं! बच्चो के साथ काम करते हैं!आप भी एक बार बच्चो सा मासूम भरोसा करके हमसे जुडिए!आप से भी नया विचार हम निकलवा लेंगे! 

Post a Comment